content-cover-image
SC को बता दिया मुगलों से ज्यादा सख्त मुख्य खबरें
00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

SC को बता दिया मुगलों से ज्यादा सख्त
सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को व्यवस्था दी कि सभी त्योहारों पर कम वायु एवं ध्वनि प्रदूषण करने वाले पटाखे ही बेचे जा सकते हैं. इसके साथ ही त्योहारों के दिन आतिशबाजी के लिए भी एक निश्चित समय सीमा तय की गई है. दीवाली पर पटाखे रात्रि आठ से दस बजे तक ही छोड़े जा सकते हैं. क्रिसमस तथा नए साल पर पटाखे छोड़ने के लिए रात्रि 11:55 बजे से 12:30 बजे तक का समय दिया गया है. शीर्ष अदालत ने पटाखों की आनलाइन बिक्री पर रोक लगा दी है. कोर्ट ने पटाखों की आनलाइन बिक्री पर कड़ी सजा की चेतावनी दी है. सुप्रीम कोर्ट की इन शर्तों पर बीजेपी के सांसद चिंतामणि मालवीया ने ऐतराज जताया है. उन्होंने कहा, हम अपनी परंपराएं हिंदू कैलेंडर के हिसाब से मनाते हैं. मैं तभी पटाखे फोड़ूंगा, जब मैं अपनी पूजा खत्म कर लूंगा. मैं इसके लिए समय निर्धारित नहीं कर सकता. इस तरह के नियम और कानून तो तब भी नहीं थे, जब देश में मुगलों का शासन था. ये नियमें स्वीकार करने योग्य नहीं हैं.
Show more
content-cover-image
SC को बता दिया मुगलों से ज्यादा सख्त मुख्य खबरें