content-cover-image

RSS का राम मंदिर के लिए 1992 जैसा आंदोलन

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

RSS का राम मंदिर के लिए 1992 जैसा आंदोलन

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की मुंबई में पिछले तीन दिनों से चल रही बैठक शुक्रवार को खत्म हो गई। बैठक के बाद मीडिया से बात करते हुए संघ के सर कार्यवाहक भैय्याजी जोशी ने कहा कि हिंदू समाज चाहता है कि अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण हो। अगर जरूरत पड़ी तो हम एक बार फिर 1992 जैसा आंदोलन करेंगे। अयोध्या में 6 दिसम्बर 1992 को विवादित ढांचा गिराया गया था । भैय्याजी जोशी ने कहा, 'राम सबके ह्रदय में रहते हैं। हम चाहते हैं कि मंदिर बने। काम में कुछ बाधाएं अवश्य हैं और हम अपेक्षा कर रहे हैं कि न्यायालय हिंदू भावनाओं को समझ के निर्णय देगा। करोड़ों हिंदुओं की आस्था से जुड़ा विषय कोर्ट में था लेकिन अब इसे कोर्ट ने टाल दिया है और ये उनका अधिकार है। सर कार्यवाहक ने कहा कि कोर्ट कि जिम्मेदारी बनती है कि वह लोगों की भावनाओं का सम्मान करे और अगर कोई विकल्प नहीं बचता है तो फिर सरकार इस पर विचार करे। बुधवार को ही राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ ने अयोध्या में भव्य राम मंदिर के शीर्घ निर्माण के लिए अध्यादेश लाने या कानून बनाने की अपनी मांग को दोहराया था।

Show more
content-cover-image
RSS का राम मंदिर के लिए 1992 जैसा आंदोलनमुख्य खबरें