content-cover-image

नोटबंदी के बाद इतने लोग रडार पर

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

नोटबंदी के बाद इतने लोग रडार पर

नोटबंदी के बाद 80 हजार ऐसे मामले सामने आए हैं, जिनमें इनकम टैक्स रिटर्न फाइल न किए जाने के बाद आयकर विभाग जांच कर रहा है। केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड ने इसकी जानकारी दी है। केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड के चेयरमैन सुशील चंद्रा ने कहा कि आय कर विभाग ने 80 हजार ऐसे लोगों की पहचान की है, जिन्होंने पिछले तीन साल के दौरान अपना रिटर्न दाखिल किया था लेकिन इस बार अब तक रिटर्न दाख‍िल नहीं किया है। चंद्रा ने कहा कि नवंबर, 2016 में हुई नोटबंदी के बाद देश में कर आधार बढ़ाने में मदद मिली है। नोटबंदी से प्रत्यक्ष करों से देश का शुद्ध राजस्व भी बढ़ा है। पिछले साल प्रत्यक्ष करों का योगदान 52 और अप्रत्यक्ष करों का योगदान 48 प्रतिशत था । कई साल बाद ऐसा हुआ है, जब प्रत्यक्ष कर का योगदान अप्रत्यक्ष कर से अधिक रहा है। नोटबंदी से मिली मदद के सवाल पर उन्होंने कहा मैं कहूंगा कि पैसा बैंक खातों में आ गया। हमारे लिए ये पता लगाना आसान हो गया कि कितने लोगों ने पैसे तो जमा किए, लेकिन उनका रिटर्न दाख‍िल नहीं किया।

Show more
content-cover-image
नोटबंदी के बाद इतने लोग रडार पर मुख्य खबरें