content-cover-image

भगवान ने आज ही कहा था अलविदा

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

भगवान ने आज ही कहा था अलविदा

हिंदुस्तान में 'क्रिकेट' धर्म की तरह पूजा जाता है। इसीलिए तो सचिन तेंदुलकर 'भगवान' कहलाए। हर क्रिकेट प्रेमी के लिए 16 नवंबर का दिन बेहद खास हो जाता है। 2013 यानी आज से ठीक पांच साल पहले सचिन आखिरी बार क्रिकेट मैदान पर उतरे थे । ऊपर वाले ने सचिन तेंदुलकर को इस खेल की खास कला के साथ धरती पर भेजा था.. यह करिश्मा नहीं तो और क्या था कि जिस मैदान में नन्हें सचिन ने क्रिकेट का 'ककहरा' सीखा उसी मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम की मिट्टी को माथे पर लगाकर इस खेल से संन्यास ले लिया। वेस्टइंडीज के खिलाफ इसी दिन टेस्ट सीरीज जीतने के साथ ही मास्टर-ब्लास्टर ने क्रिकेट को अलविदा कह दिया। अगर इसे एक युग का अंत कहा जाए तो अतिश्योक्ति नहीं होगी। जितना शानदार और बेदाग सचिन का करियर रहा उतना ही भावुक और ऐतिहासिक उनका विदाई भाषण भी था। क्रिकेट इतिहास के लगभग सभी रिकॉर्ड्स अपने नाम कर चुके तेंदुलकर ने 200 टेस्ट में 53.78 की औसत से 15,921 रन बनाए । उन्होंने 51 शतक और 68 अर्धशतक जमाए हैं। टेस्ट में उनका सर्वश्रेष्ठ स्कोर 248 नाबाद रहा।वन-डे में भी सचिन का कोई सानी नहीं। सचिन ने 463 मैच खेले और 49 शतक और 96 अर्धशतक की मदद से 18,426 रन बनाए। वनडे में सचिन का सर्वश्रेष्ठ स्कोर नाबाद 200 रन रहा। इसके साथ ही सचिन ने अपने अंतरराष्ट्रीय करियर में 100 शतक भी लगाए।

Show more
content-cover-image
भगवान ने आज ही कहा था अलविदा मुख्य खबरें