content-cover-image
आयुष्मान भारत के 68 प्रतिशत इलाज निजी अस्पताल में मुख्य खबरें
00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

आयुष्मान भारत के 68 प्रतिशत इलाज निजी अस्पताल में
23 सितंबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आयुष्मान भारत कार्यक्रम को लांच किया था। इसके तहत अबतक 2.3 लाख लाभार्थियों यानी 68 प्रतिशत लोग निजी अस्पताल में भर्ती हैं और वहां अपना इलाज करवा रहे हैं। जिसमें सबसे ज्यादा लोग गुजरात, तमिलनाडु, महाराष्ट्र और पश्चिम बंगाल के हैं। इस योजना के तहत 2,32,592 लाभार्थियों का निजी अस्पताल में इलाज चल रहा है। जबकि इस योजना को शुरु हुए दो महीने भी नहीं हुए हैं। राष्ट्रीय स्वास्थ्य एजेंसी द्वारा संकलित डाटा के अनुसार ओरल और मेक्सिलोफेशियल सर्जरी, जनरल सर्जरी, ओपथालमोलोजी और गायनोकोलॉजी से संबंधित बीमारियों का लाभार्थियों ने इलाज कराया है। इनमें हेड सर्जरी भी शामिल है जिससे इस बात की संभावना है कि दुर्घटना मामलों की एक बड़ी संख्या ने योजना के तहत दावा किया है। आयुष्मान भारत के जरिए केंद्र सरकार लोगों की पहुंच स्वास्थ्य देखभाल तक करवाना चाहती है और फिजूलखर्चों को कम करना चाहती है। अरोड़ा ने कहा, 'हमारा लक्ष्य तीसरी श्रेणी की बीमारियों के इलाज को सालाना 6000-7000 बढ़ाना चाहते हैं।' आयुष्मान भारत का लक्ष्य लगभग 50 करोड़ लाभार्थियों को सुरक्षा बीमा के दायरे में लाना है। इसके तहत गरीब परिवारों को 5 लाख रुपये का कैशलेस स्वास्थ्य बीमा दिया जाएगा
Show more
content-cover-image
आयुष्मान भारत के 68 प्रतिशत इलाज निजी अस्पताल में मुख्य खबरें