content-cover-image
'शर्मनाक और अमानवीय' मुजफ्फरपुर शेल्टर होम केस पर नीतीश सरकार को सुप्रीम कोर्ट की फटकार बिहार में जिस तरह से महिला शेल्टर होम में लड़कियों के साथ यौन शोषण का मामला सामने आया था, उसके बाद सु्प्रीम कोर्ट ने नीतीश सरकार को फटकार लगाई है। सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि जिस तरह का रवैया बिहार सरकार ने इस मामले में अपनाया है वह शर्मनाक और अमानवीय है सुप्रीम कोर्ट की बेंच ने इस मामले में नीतीश सरकार की आलोचना की है। बेंच की अध्यक्षता कर रहे जस्टिस बी लोकुर ने कहा कि बिहार सरकार ने इस मामले में बेहद ही कमजोर एफआईआर दर्ज की है।

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

'शर्मनाक और अमानवीय' मुजफ्फरपुर शेल्टर होम केस पर नीतीश सरकार को सुप्रीम कोर्ट की फटकार बिहार में जिस तरह से महिला शेल्टर होम में लड़कियों के साथ यौन शोषण का मामला सामने आया था, उसके बाद सु्प्रीम कोर्ट ने नीतीश सरकार को फटकार लगाई है। सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि जिस तरह का रवैया बिहार सरकार ने इस मामले में अपनाया है वह शर्मनाक और अमानवीय है सुप्रीम कोर्ट की बेंच ने इस मामले में नीतीश सरकार की आलोचना की है। बेंच की अध्यक्षता कर रहे जस्टिस बी लोकुर ने कहा कि बिहार सरकार ने इस मामले में बेहद ही कमजोर एफआईआर दर्ज की है।

बिहार में जिस तरह से महिला शेल्टर होम में लड़कियों के साथ यौन शोषण का मामला सामने आया था, उसके बाद सु्प्रीम कोर्ट ने नीतीश सरकार को फटकार लगाई है। सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि जिस तरह का रवैया बिहार सरकार ने इस मामले में अपनाया है वह शर्मनाक और अमानवीय है सुप्रीम कोर्ट की बेंच ने इस मामले में नीतीश सरकार की आलोचना की है। बेंच की अध्यक्षता कर रहे जस्टिस बी लोकुर ने कहा कि बिहार सरकार ने इस मामले में बेहद ही कमजोर एफआईआर दर्ज की है। कोर्ट ने बिहार सरकार के रुख को अमानवीय और शर्मनाक करार दिया है। जिस तरह से बिहार सरकार ने इस मामले में सख्त रुख नहीं दिखाया और एफआईआर में बेहद ही कमजोर धाराएं लगाई गई हैं वह शर्मनाक है। कोर्ट ने कहा कि आखिर इस मामले में सरकार की ओर से एफआईआर में आईपीसी की धारा 377 को शामिल नहीं किया गया।

Show more
content-cover-image
'शर्मनाक और अमानवीय' मुजफ्फरपुर शेल्टर होम केस पर नीतीश सरकार को सुप्रीम कोर्ट की फटकार बिहार में जिस तरह से महिला शेल्टर होम में लड़कियों के साथ यौन शोषण का मामला सामने आया था, उसके बाद सु्प्रीम कोर्ट ने नीतीश सरकार को फटकार लगाई है। सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि जिस तरह का रवैया बिहार सरकार ने इस मामले में अपनाया है वह शर्मनाक और अमानवीय है सुप्रीम कोर्ट की बेंच ने इस मामले में नीतीश सरकार की आलोचना की है। बेंच की अध्यक्षता कर रहे जस्टिस बी लोकुर ने कहा कि बिहार सरकार ने इस मामले में बेहद ही कमजोर एफआईआर दर्ज की है।मुख्य खबरें