content-cover-image
स्पेशल : कमल नाथ, इंदिरा गाँधी के तीसरे पुत्र?? मुख्य खबरें
00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

स्पेशल : कमल नाथ, इंदिरा गाँधी के तीसरे पुत्र??
मध्य प्रदेश के नए मुख्यमंत्री कमल नाथ के बारे में क्या आपको पता कि स्वर्गीय प्रधानमंत्री इंदिरा गाँधी अपना तीसरा पुत्र कहा करती थीं। शायद यही कारण है कि सोनिया गाँधी उनको बहुत मानती हैं और उन्होंने ज्योतिरादित्य सिंधिया पर उनको तरजीह दी। संजय गाँधी के परम मित्र रहे कमल नाथ ने अपनी राजनीति तो MP से ही शुरू की और छिंदवाड़ा लोक सभा सीट से वह नौ बार चुने जा चुके हैं। राजनीति तो उन्होंने MP में की लेकिन उनका जन्म उत्तर प्रदेश के कानपुर में हुआ था। 72 वर्षीय कमल नाथ शुरू से अब तक कांग्रेस के वफादार रहे और केंद्र में UPA सरकार के दौरान मंत्री भी थे। वैसे वह बहुत बड़े व्यवसायी हैं और तमाम बिज़नेस के साथ ग़ाज़ियाबाद में इंस्टिट्यूट ऑफ़ मैनेजमेंट टेक्नोलॉजी यानि IMT के नाम से प्रसिद्ध है। उनको अच्छा प्रशासक कहा जाता है लेकिन एक आरोप उन पर उनके विरोधी अक्सर लगाते हैं कि 1984 के सिख- विरोधी दंगों में उनकी भूमिका थी और लोगों का तो कहना है कि इंदिरा गाँधी की हत्या के बाद वह दिल्ली में अनेक स्थानों पर सिखों के खिलाफ भीड़ की अगुआई गए थे। वह हालाँकि इन आरोपों को ख़ारिज हैं। मध्य प्रदेश के 18वें मुख्यमंत्री की शपथ लेने से पहले वह मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी की कमान संभाले थे जो उन्हें चुनाव के पहले मई में सौंपी गयी थी। अब देखना यह है कि किसानों की ऋण माफ़ी के बाद राज्य में जो आर्थिक तंगी होगी वह उससे MP को कैसे उबारते हैं। वैसे तो वह व्यवसायी है लेकिन मुख्यमंत्री के रूप में अर्थव्यवस्था मैनेज करना अलग ही खेल है।
Show more
content-cover-image
स्पेशल : कमल नाथ, इंदिरा गाँधी के तीसरे पुत्र?? मुख्य खबरें