content-cover-image

बिना इजाजत फोन कॉल रिकॉर्ड करना इस्लाम में गुनाह

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

बिना इजाजत फोन कॉल रिकॉर्ड करना इस्लाम में गुनाह

दारुल उलूम देवबंद से एक नया फतवा जारी किया गया है। इस फतवे में कॉल रिकॉर्ड करने को गुनाह करार दिया गया है। फतवा जारी होने के बाद यह सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। दारुल उलूम के फतवा विभाग से यह जारी किया गया है। स्थानीय मीडिया के मुताबिक फतवे में कहा गया है कि बिना इजाजत किसी की कॉल रिकॉर्ड करना गुनाह है। ऐसी खबरें हैं कि फतवे के जारी होने की जानकारी पाकर कई लोगों ने अपने मोबाइल फोन से कॉल रिकॉर्डिंग की सुविधा ही खत्म कर दी है। फतवे के संबंध में कुछ लोगों ने उलमा-ए-कराम से इसकी पुष्टि की। फतवे के लेकर मुफ्ती-ए-कराम से सवाल किया गया है कि कॉल रिकॉर्डिंग करना आम बात है और कई मोबाइल फोन्स में तो इसकी ऑटो रिकॉर्डिंग की सुविधा होती है। मुफ्ति-ए-कराम ने सवाल के जवाब में कहा है कि इस्लाम में दो लोगों की आपसी बातचीत अमानत की तरह होती है। उसे रिकॉर्ड कर किसी को सुनाना और मजाक बनाना अमानत में खयानत की तरह है।

Show more
content-cover-image
बिना इजाजत फोन कॉल रिकॉर्ड करना इस्लाम में गुनाहमुख्य खबरें