content-cover-image

पद्मश्री विजेता जननी अम्मा का निधन

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

पद्मश्री विजेता जननी अम्मा का निधन

जननी अम्मा के नाम से विख्यात कर्नाटक की कृषि मजदूर, पद्मश्री सुलगत्ती नरसम्मा का 98 वर्ष की आयु में बेंगलूरू में निधन हो गया. समाज के गुमनाम नायकों में से एक नरसम्मा को इसी वर्ष राष्ट्रपति ने पद्मश्री पुरस्कार से सम्मानित किया था. उन्होंने बगैर किसी मेडिकल सुविधा के कर्नाटक के पिछड़े क्षेत्रों में प्रसव सहायिका के तौर पर सेवाएं दी और 15000 से ज्यादा निशुल्क प्रसव कराए. समाज में उनके योगदान के लिए टुमकुर विश्वविद्यालय ने उन्हें डॉक्टरेट की मानद उपाधि दी थी. पदमश्री सुलगत्ती नरसम्मा सांस की लंबी बीमारी के चलते 29 नवंबर से बेंगलूरू के बीजीएस अस्पताल में भर्ती थीं और पिछले पांच दिनों से वेंटिलेटर पर थीं. अस्पताल प्रशासन के मुताबिब उन्होंने मंगलवार को 3 बजे अंतिम सांस ली.मौत की खबर सुनते ही पूर्व मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने अस्पताल पहुंचकर उन्हें श्रद्धांजली दी.

Show more
content-cover-image
पद्मश्री विजेता जननी अम्मा का निधनमुख्य खबरें