content-cover-image

किसान परिवार ने मांगी इच्छामृत्यु की इजाजत

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

किसान परिवार ने मांगी इच्छामृत्यु की इजाजत

कर्नाटक में कांग्रेस और जनता दल सेक्युलर गठबंधन की सरकार बनने के बाद कर्जमाफी के प्रयास किए जा रहे हैं. मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी खुद इस योजना को लेकर काफी सक्रिय हैं और बैंकों को निर्देश दे चुके हैं कि किसानों को उनके लोन के लिए नोटिस न भेजे जाएं. इसके बावजूद राज्य के कई किसानों को कुछ बैंकों ने लोन संबंधी नोटिस जारी किया है. ऐसे ही नोटिस से तंग आकर महालिंगापुरा के रहने वाले एक किसान परिवार ने तहसीलदार और सीएम को पत्र लिखकर इच्छामृत्यु की अनुमति मांगी है. मल्लव यमनप्पा निंगानूरा ने जामखंडी शहरी सहकारी बैंक से अपनी डेढ़ एकड़ जमीन के आधार पर पांच लाख का लोन लिय था. बताया गया कि मल्लव के पति यमनप्पा की मौत कैंसर के चलते हुई थी. लोन से मिले पांच में से चार लाख रुपये यमनप्पा की दवा पर खर्च हो गए थे.मल्लव के दो बेटों समेत परिवार में कुल 10 लोग हैं और परिवार आर्थिक समस्या से जूझ रहा है.अब बैंक मल्लव से मूलधन और ब्याज समेत कुल 8.60 लाख रुपये मांग रहा है. घर आए रिकवरी एजेंट ने धमकी दी है कि पैसे नहीं चुकाए तो डेढ़ एकड़ जमीन के साथ-साथ पूरी संपत्ति जब्त कर ली जाएगी. हर तरफ से निराशा मल्लव के परिवार ने तहसीलदार और मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी को पत्र लिखकर इच्छामृत्यु की अनुमति मांगी है. बताते चले कि कुछ दिनों पहले मध्यप्रदेश में भी कर्ज मांफी के बाद एक किसान ने आत्महत्या की है| तो श्रोताओं यह खबर सुनाने के बाद आपको क्या लगता है कांग्रेस सरकार ने अपने राज्यों में किसान कर्ज मांफी का जो प्रयास किया है उसे कहा तक सफल कहा जा सकता है? और आपके विचार से किसानो की आत्महत्या को किस प्रकार रोका जा सकता है? तो कृपया इन सवालों के जबाब और अपने उपाय हमें कमेन्ट के माध्यम से लिख कर या रिकॉर्ड कर जरुर बताए|

Show more
content-cover-image
किसान परिवार ने मांगी इच्छामृत्यु की इजाजतमुख्य खबरें