content-cover-image
वेतन से नहीं चलता खर्च, चोरी तो करनी ही पड़ेगीमुख्य खबरें
00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

वेतन से नहीं चलता खर्च, चोरी तो करनी ही पड़ेगी
भाजपा सांसद हरीश द्विवेदी ने विवादित बयान दिया । उन्होंने पीएम नरेंद्र मोदी से सांसदों का वेतन बढ़ाने की मांग की। उन्होंने कहा , अगर राजनीतिक व्यक्तियों की चोरी रोकनी है तो उनका वेतन बढ़ाया जाना चाहिए। आज एक सांसद से ज्यादा वेतन एक प्राइमरी स्कूल के शिक्षक का है। ऐसे में विधायकों, सांसदों और मंत्रियों का वेतन और सुविधाएं बढ़ाई जाएं।वेतन से कोई सांसद, मंत्री अपना चुनाव क्षेत्र नहीं चला सकता। अगर चुनाव क्षेत्र में कुछ करना है तो फिर चोरी तो करनी ही पड़ेगी। इस बयान के बाद चलिए जानते है एक सांसद की सैलरी के बारे में- एक सांसद को हर महीने 50 हजार रुपये सैलरी मिलाती है| इसके अलावा कई अन्य तरह के भत्ते भी मिलते हैं। इन भत्तों में 45000 रुपये संसदीय क्षेत्र भत्ता, 45000 रुपये कार्यालय भत्ता मिलता है। यहीं नहीं संसद सत्र के दौरान सदन का अलग भत्ता मिलता है। कुल खर्चे की बात करें तो सांसद पर हर महीने लगभग 2.70 लाख रुपये खर्च होते हैं।
Show more
content-cover-image
वेतन से नहीं चलता खर्च, चोरी तो करनी ही पड़ेगीमुख्य खबरें