content-cover-image

महिलाओं को जुमा की नमाज पढ़ने की इजाजत नहीं

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

महिलाओं को जुमा की नमाज पढ़ने की इजाजत नहीं

नोएडा के सेक्टर 64 में एक कंपनी की छत पर मुस्लिम महिलाओं का सामूहिक रूप से जुमे की नमाज अदा करना चर्चा का सबब बना है। देवबंदी उलमा ने इस पर एतराज जताया है। फतवा ऑन मोबाइल सर्विस के चेयरमैन मुफ्ती अरशद फारूकी ने कहा कि इस्लाम में महिलाओं को जुमा की नमाज पढ़ने की इजाजत नही है। महिलाओं का इमामत करना और सामूहिक रूप से बाजमात नमाज अदा करना भी गलत है। यदि महिलाएं सामूहिक रूप से किसी स्थान पर इकट्ठा भी हैं तो भी उन्हें अलग-अलग अपनी नमाज अदा करनी चाहिए। वही जामिया इमाम मोहम्मद अनवर शाह के वरिष्ठ उस्ताद मुफ्ती सादान जामी ने बताया कि जुमा की नमाज केवल पुरुषों के लिए होती है। महिलाएं जुमा की नमाज नहीं पढ़ सकतीं।

Show more
content-cover-image
महिलाओं को जुमा की नमाज पढ़ने की इजाजत नहींमुख्य खबरें