content-cover-image
BJP के बुजुर्ग नेताओं को चुनाव में उतरने का मौका

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

BJP के बुजुर्ग नेताओं को चुनाव में उतरने का मौका

बीजेपी के तमाम बुजुर्ग नेताओं के लिए राहत की खबर है। यदि वह फिर से चुनाव मैदान में उतरना चाहेंगे, तो पार्टी इनकार नहीं करेगी। बीजेपी में ऐसे सांसदों की संख्या करीब डेढ़-दो दर्जन से ऊपर होने का अनुमान है, जो 75 साल की उम्र पार कर चुके हैं। सबसे वयोवृद्ध लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी एवं शांता कुमार हैं। आडवाणी 91 वर्ष, जोशी 85 वर्ष तो शांता कुमार 84 वर्ष के हैं। पार्टी सूत्रों के अनुसार 75 साल की उम्र सीमा सिर्फ मंत्री बनने के लिए है, लोकसभा का चुनाव लड़ने के लिए नहीं। इसलिए जो बुजुर्ग नेता हैं, उन्हें खुद ही निर्णय लेना होगा कि वह चुनाव लड़ना चाहते हैं या नहीं। जो लड़ना चाहेंगे उन्हें पार्टी टिकट देगी।

Show more
content-cover-image
BJP के बुजुर्ग नेताओं को चुनाव में उतरने का मौकामुख्य खबरें