content-cover-image

मनीषा कोइराला बोलीं- कैंसर कोई डेथ सेंटेंस नहीं

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

मनीषा कोइराला बोलीं- कैंसर कोई डेथ सेंटेंस नहीं

कैंसर कोई डेथ सेंटेंस नहीं, उसके परे भी जीवन है। बॉलीवुड अभिनेत्री मनीषा कोइराला ने रविवार को जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल में ये बात कही। उन्होंने कहा, समय बहुत सीमित है, जो कुछ भी आपके पास है उसकी कद्र कीजिए। सेशन 'हील्ड: लाइफ लर्निंग्स फ्रॉम मनीषा कोइराला' में अभिनेत्री से फेस्टिवल के प्रोड्यूसर संजोय रॉय ने बात की। सवाल-जवाब के दौरान मनीषा से कहा, वह एक चीज जिसने मुझे इस बीमारी से बाहर निकालने में मदद की वह है समय। यह समझना कि समय सीमित है, यह सबसे बड़ी बात है। इससे जो मेरे पास था, मेरा जीवन, मेरा समय, मैंने उसकी कद्र करना सीखा। मैं इन सब चीजों के प्रति कृतज्ञ हुई और फिर मैंने इन सब पर ध्यान देना व उनका सम्मान करना शुरू किया। जहां तक मुझ में बदलाव आने की बात है तो मैंने यह समझा कि हम आपस में परस्पर संबद्ध हैं।

Show more
content-cover-image
मनीषा कोइराला बोलीं- कैंसर कोई डेथ सेंटेंस नहींमुख्य खबरें