content-cover-image

अमेरिका ने रूस के साथ ऐतिहासिक INF संधि तोड़ने का किया ऐलान

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

अमेरिका ने रूस के साथ ऐतिहासिक INF संधि तोड़ने का किया ऐलान

अमेरिका ने रूस के साथ हुए अंतिम हथियार समझौते आईएनएफ (Intermediate-Range Nuclear Forces) से खुद को अलग करने का फैसला लिया है। विदेश मंत्री माइक पोंपियो ने शुक्रवार को घोषणा करते हुए कहा कि अमेरिका आईएनएफ समझौते को खारिज करता है, जो कि 2 फरवरी से लागू हो जाएगा। अमेरिका का आरोप है कि रूस ने इस समझौते का न सिर्फ उल्लंघन किया है, बल्कि यूरोप की सीमा के निकट लॉन्चर्स तैनात कर माहौल खराब करने की कोशिश की है। पोंपियो की इस घोषणा के बाद नाटो ने तुरंत अमेरिका का समर्थन किया है। ईरान के साथ न्यूक्लियर डील कैंसिल करने के बाद ट्रंप एडमिनिस्ट्रेशन का यह दूसरा बड़ा फैसला है, जो आने वाले वक्त में अंतरराष्ट्रीय राजनीति पर प्रभाव डालेगी। पोंपियो ने कहा, 'रूस ने अमेरिका के सुरक्षा हितों को खतरे में डाल दिया है। रूस बेशर्मी से नियमों का उल्लंघन कर रहा है, इसलिए हम इस समझौते में बंधे नहीं रह सकते हैं।' पोंपियो ने कहा कि जिस देश ने नियमों का उल्लंघन किया है, उन्हें इसका खामियाजा भुगतना चाहिए। अमेरिका ने 180 दिनों का वक्त देते हुए रूस को कहा है कि अगर वे नियमों का पालन नहीं करते हैं, तो वॉशिंगटन को मजबूरी से इस समझौते से अलग होना होगा। अमेरिका ने साथ में यह भी कहा कि एक बार समझौता पूरी तरह से टूटने से रूस को इसका खतरनाक खामियाजा भुगतना पड़ सकता है।

Show more
content-cover-image
अमेरिका ने रूस के साथ ऐतिहासिक INF संधि तोड़ने का किया ऐलानमुख्य खबरें