content-cover-image
आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस से मिलेगा रोजगार

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस से मिलेगा रोजगार

भारतीय इंजीनियर अब बेरोजगार नहीं रहेंगे। सरकार ने अंतरराष्ट्रीय बाजार की मांग पर आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस को शिक्षा में शामिल करने को मंजूरी दे दी है। सीआईआईटी, फिक्की, एसोचैम, नैसकॉम, पीएचडी चैंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री ने सरकार को आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस कोर्स पर पढ़ाई की सिफारिश दी थी। इसी के तहत अब अंतरिम बजट में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस संस्थान मंजूर हुआ है। मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावडेकर ने विशेष बातचीत में कहा कि अब इंजीनियरिंग की डिग्री के बाद युवा बेरोजगार नहीं रहेंगे। अंतरराष्ट्रीय बाजार में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस पासआउट छात्रों की बेहद मांग है। आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के चलते छात्र इनोवेशन व रिसर्च में आगे बढ़ेंगे। बजट में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस संस्थान को मंजूरी मिली है। यह संस्थान इंस्टीट्यूट ऑफ एमिनेंस का दर्जा पाने वाले संस्थानों समेत आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस की पढ़ाई करवाने वाले संस्थानों के साथ मिलकर काम करेगा।

Show more
content-cover-image
आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस से मिलेगा रोजगारमुख्य खबरें