content-cover-image

राफेल पर रक्षामंत्री नि‍र्मला सीतारमन ने दिया जवाब

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

राफेल पर रक्षामंत्री नि‍र्मला सीतारमन ने दिया जवाब

राफेल डील पर एक अखबार की रिपोर्ट के बाद मचे बवाल पर अब रक्षामंत्री निर्मला सीतारमन ने खुद आकर जवाब दिया. उन्होंने कहा, प्रधानमंत्री की ये जिम्‍मेदारी होती है कि वह किसी भी डील की जानकारी लें कि उसमें कितनी प्रगत‍ि हुई. इसमें क्‍या गलती है. प्रधानमंत्री तो कई और कार्यक्रमों की जानकारी लेते हैं. उन्होंने आगे कहा, कांग्रेस और राहुल गांधी इस मुद्दे पर झूठ बोल रहे हैं. इस डील के मामले में अखबार ने पूरा सच नहीं दिखाया. अखबार ने आधा सच छापा है. इसीलिए मैं कहना चाहूंगी कि उनका उद्देश्‍य लोगों के मन में सिर्फ संदेह पैदा करना था. सीतारमन ने कहा, मैं कांग्रेस से पूछना चाहूंगी कि उनके समय में नेशनल एडवाइजरी काउंसिल क्‍या थी. ये सोनिया गांधी के अंडर में काम करती थी. ये एक संवैधानिक संस्‍था नहीं थी. ये एक पीएमओ का रिमोट कंट्रोल था. दरअसल एक अखबार की रिपोर्ट में कहा गया है कि रक्षा मंत्रालय ने इसको लेकर आपत्ति जताई कि प्रधानमंत्री कार्यालय ने राफेल विमान सौदे को लेकर फ्रांस के साथ समानांतर बातचीत की जिससे इस बातचीत में रक्षा मंत्रालय का पक्ष कमजोर हुआ. राफेल विमान सौदे को लेकर कांग्रेस और राहुल गांधी प्रधानमंत्री और अनिल अंबानी पर लगातार हमले कर रहे हैं. हालाकि सरकार और अनिल अंबानी के समूह ने उनके आरोपों को पहले ही खारिज किया है.

Show more
content-cover-image
राफेल पर रक्षामंत्री नि‍र्मला सीतारमन ने दिया जवाबमुख्य खबरें