content-cover-image

Mission 2019: 6 मुद्दों पर रहेंगी नेताओं की निगाहें

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

Mission 2019: 6 मुद्दों पर रहेंगी नेताओं की निगाहें

चुनाव आयोग ने रविवार को लोकसभा चुनावों की तारीखों का ऐलान कर दिया है। वोटिंग 11 अप्रैल से 19 मई तक 7 चरणों में होगी। चुनाव को देखते हुवे सभी पार्टियों ने अपनी कमर कस ली है और इस चुनावी समर को जितने के लिए अपने अपने मुद्दे के तहत नई रणनीति तैयार कर रही है| चलिए एक नजर डालते है २०१९ लोकसभा चुनाव के उन बड़े मुद्दों पर | राम मंदिर:-भाजपा का आरोप है कि कांग्रेस के अड़ंगों की वजह से अयोध्या विवाद पर जल्द फैसला नहीं आ रहा है। वहीं, कांग्रेस का कहना है कि भाजपा सिर्फ चुनाव के समय यह मुद्दा उठाती है। राफेल:- कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी लगातार यह आरोप लगा रहे हैं कि राफेल डील में मोदी सरकार ने भ्रष्टाचार किया है। वहीं, सरकार राफेल को देश की जरूरत बता रही है। किसान :- केंद्र ने अंतरिम बजट में छोटे किसानों के खाते में हर साल 6,000 रुपए ट्रांसफर करने का ऐलान किया था। मोदी इसे क्रांतिकारी कदम बता रहे, वहीं, कांग्रेस कर्ज माफी का मॉडल लागू करने का वादा कर रही है। पकिस्तान:- वायुसेना ने पुलवामा हमले के बाद पाक में आतंकी शिविर पर हमला किया। इस हमले के सबूतों को लेकर भाजपा और विपक्ष आमने-सामने हैं। नोटबंदी और जी.एस.टी.:- हालांकि नोटबंदी और जी.एस.टी. का मुद्दा पिछले दिनों में बैकफुट पर चला गया है, लेकिन फिर भी मोदी राज की नाकामियों को गिनाने के लिए विपक्षी दल चुनाव प्रचार के दौरान इसका उपयोग कर सकते हैं। राष्ट्रवाद:- पुलवामा हमले के बाद भाजपा ने राष्ट्रवाद को मुख्य मुद्दा बनाया है।

Show more
content-cover-image
Mission 2019: 6 मुद्दों पर रहेंगी नेताओं की निगाहेंमुख्य खबरें