content-cover-image

यासीन मलिक के बचाव में उतरीं महबूबा मुफ्ती

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

यासीन मलिक के बचाव में उतरीं महबूबा मुफ्ती

केंद्र सरकार ने बड़ी कार्रवाई करते हुए जम्मू-कश्मीर के अलगाववादी संगठन जम्मू-कश्मीर लिबरेशन फ्रंट को बैन कर दिया है. मोदी सरकार के इस फैसले का विरोध करते हुए जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने अलगाववादी नेता यासीन मलिक का बचाव किया है. उन्होंने कहा, यासीन मलिक ने जम्मू-कश्मीर का मुद्दा सुलझाने के लिए काफी पहले हिंसा छोड़ दी है. उनके संगठन को बैन करने से क्या हासिल होगा. इस तरह के फैसलों से कश्मीर सिर्फ एक खुली जेल में तब्दील हो जाएगा. गौरतलब है कि महबूबा मुफ्ती कश्मीर में अलगाववादियों पर केंद्र सरकार की सख्ती को लेकर भड़कती रही हैं. पुलवामा आतंकी हमले के बाद अलगाववादियों पर केंद्र सरकार की सख्ती और यासीन को हिरासत में लिए जाने पर उन्होंने कहा था कि इस तरह से केंद्र की मनमर्जी जम्मू-कश्मीर में मुद्दों को और उलझा रही है.

Show more
content-cover-image
यासीन मलिक के बचाव में उतरीं महबूबा मुफ्तीमुख्य खबरें