content-cover-image

तीसरी बार खनन माफिया के शिकार हुए योगेश वर्मा

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

तीसरी बार खनन माफिया के शिकार हुए योगेश वर्मा

जिले में एक बार फिर खनन माफिया की गुंडई सामने आई है। हालांकि जिला प्रशासन और पुलिस का यही दावा रहता है कि जिले में अवैध खनन नहीं होता, लेकिन भाजपा विधायक योगेश वर्मा तीसरी बार खनन माफिया के हमले का शिकार हुए हैं, वहीं एक महीने पहले खनन निरीक्षक अजीत कुमार पांडे के घर पर भी इस धंधे से जुड़े लोगों ने फायरिंग और तोड़फोड़ कर दहशत फैलाने की कोशिश की थी। इस मामले को पुलिस ने काफी हल्के में लिया, नतीजतन ठीक एक महीने बाद होली के दिन खनन माफिया ने विधायक को जान से मारने की कोशिश की गई। जिले में अवैध खनन का कारोबार जोरों पर हो रहा है। इसमें पुलिस और प्रशासन की मिलीभगत भी कई बार सामने आ चुकी है। विधायक योगेश वर्मा और उनके प्रतिनिधि शांतनु वर्मा पर सबसे पहले 22 जुलाई 2017 को खनन माफियाओं ने फायरिंग कर दी थी, जिसमें तीन लोगों को नामजद किया गया था, लेकिन कार्रवाई शून्य रही थी।

Show more
content-cover-image
तीसरी बार खनन माफिया के शिकार हुए योगेश वर्मामुख्य खबरें