content-cover-image

Elec Spcl: कहाँ बनती है उंगली पर लगने वाली 'स्याही'?

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

Elec Spcl: कहाँ बनती है उंगली पर लगने वाली 'स्याही'?

चुनाव आयोग ने लोकसभा चुनावों से पहले 33 करोड़ रुपये की कीमत पर पक्की स्याही की 26 लाख बोतलों का ऑर्डर दिया है. सात चरणों में होने वाले चुनाव 11 अप्रैल से शुरू होकर 19 मई को संपन्न होंगे. चुनाव आयोग ने 2014 लोकसभा चुनावों में 21.5 लाख शीशियां मंगाई थी जो इस साल के मुकाबले 4.5 लाख कम थी. कर्नाटक सरकार का उपक्रम मैसूर पेंट्स एंड वार्निश लिमिटेड चुनाव आयोग के लिए पक्की स्याही बनाने के लिए अधिकृत एकमात्र निर्माता है. मैसूर पेंट्स के प्रबंध निदेशक चंद्रशेखर डोडामनी ने बताया कि कंपनी को चुनाव आयोग से 10-10 क्यूबिक सेंटीमीटर की 26 लाख शीशियां बनाने का आर्डर प्राप्त हुआ है. उन्होंने कहा, “संभावित टर्नओवर करीब 33 करोड़ रुपये का है.” डोडामनी ने बताया कि इस बार पिछले आम चुनावों के मुकाबले 4.5 लाख शीशियां ज्यादा मंगाई गई हैं. मैसूर पेंट्स विश्व भर में 30 से ज्यादा देशों को पक्की स्याही निर्यात करता है.

Show more
content-cover-image
Elec Spcl: कहाँ बनती है उंगली पर लगने वाली 'स्याही'?मुख्य खबरें