content-cover-image

FPI ने निकाले 44500 करोड़ रुपये

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

FPI ने निकाले 44500 करोड़ रुपये

पिछले दो महीने में भारी लिवाली होने के बाद भी वित्त वर्ष 2018-19 में विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (एफपीआई) ने घरेलू वित्त बाजार से 44,500 करोड़ रुपये की शुद्ध निकासी की. विशेषज्ञों के अनुसार, अमेरिका के फेडरल रिजर्व द्वारा ब्याज दर में वृद्धि, रुपये में गिरावट, कच्चा तेल में तेजी, चालू खाता घाटा बढ़ने तथा राजकोषीय घाटा के साथ ही अमेरिका और चीन के बीच व्यापार युद्ध के कारण विकासशील बाजारों में धारणा प्रभावित हुई. डिपॉजिटरी के आंकड़ों के अनुसार, आलोच्य वित्त वर्ष के दौरान एफपीआई ने शेयरों से 1,629 करोड़ रुपये और बॉन्ड बाजार से 42,951 करोड़ रुपये की शुद्ध निकासी की. इस तरह उनकी कुल निकासी 44,580 करोड़ रुपये रही. वित्त वर्ष 2017-18 में एफपीआई ने शेयरों में 25,634 करोड़ रुपये और बांड बाजार में 1,19,035 करोड़ रुपये का शुद्ध निवेश किया था. इस तरह उनका कुल शुद्ध निवेश 1,44,669 करोड़ रुपये रहा था.

Show more
content-cover-image
FPI ने निकाले 44500 करोड़ रुपयेमुख्य खबरें