content-cover-image

तमिलनाडु सरकार को नहीं athletes की कद्र

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

तमिलनाडु सरकार को नहीं athletes की कद्र

एशियाई खेलों के स्वर्ण पदक विजेता जिंसन जानसन, मंजीत सिंह और सुधा सिंह जैसे एथलीट वल्र्ड चैंपियनशिप क्वालिफाइंग एशियाई चैंपियनशिप की तैयारियां सिंथेटिक की बजाय मिट्टी, राख के ट्रैक पर कर रहे हैं। एथलेटिक फेडरेशन ऑफ इंडिया की ओर से दोहा में 21 अप्रैल से होने वाली इस चैंपियनशिप की तैयारियों के लिए लंबी और मध्यम दूरी के धावकों का कैंप ऊटी में लगाया गया है, जिसमें 30 राष्ट्रीय एथलीट शामिल हैं। लेकिन तमिलनाडु सरकार ने ऊटी में मौजूद नवनिर्मित सिंथेटिक ट्रैक पर एथलीटों को ट्रेनिंग करने से मना कर दिया। लंबी दूरी के धावकों केलिए हाईएल्टीट्यूड ट्रेनिंग जरूरी होती है। इसी को ध्यान में रख कैंप ऊंचाई पर स्थित ऊटी में लगाया गया, लेकिन किसी भी कंपटीशन से पहले इन धावकों को स्पीड ट्रेनिंग क़े लिए सिंथेटिक ट्रैक की जरूरत थी। ऊटी में तमिलनाडु सरकार की ओर से सिंथेटिक ट्रैक का निर्माण कराया गया है। फेडरेशन को उम्मीद थी कि उन्हें यह ट्रैक मिल जाएगा, लेकिन ऐसा नहीं हुआ। जिसका खामियाजा एथलीटों को भुगतना पड़ रहा है।

Show more
content-cover-image
तमिलनाडु सरकार को नहीं athletes की कद्र मुख्य खबरें