content-cover-image

कन्नौज सीट पर होगी कांटे की टक्कर

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

कन्नौज सीट पर होगी कांटे की टक्कर

उत्तर प्रदेश की कन्नौज लोकसभा सीट समाजवादी पार्टी के लिए किसी किले से कम नहीं मानी जाती है। सपा प्रमुख अखिलेश यादव की पत्नी डिंपल यादव यहां से सांसद हैं। डिंपल यादव ने 2014 के लोकसभा चुनाव में भाजपा के प्रत्याशी सुब्रत पाठक को करीबी अंतर से हराया था। कन्नौज लोकसभा सीट से डिंपल यादव फिर से चुनावी मैदान में हैं। इसबार वो सपा- बसपा और आरएलडी की संयुक्त उम्मीदवार के तौर पर वहां से चुनाव लड़ रही हैं। जबकि भाजपा ने एक बार फिर से अपने पुराने प्रत्याशी सुब्रत पाठक के कंधे पर डिंपल को मात देने की जिम्मेदारी सौंपी है। डिंपल के पक्ष में अखिलेश यादव ने यहां जबरदस्त प्रचार किया है। बसपा सुप्रीमो मायावती ने भी यहां रैली की। सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने अपनी सियासी पारी का आगाज कन्नौज लोकसभा सीट पर साल 2000 में हुए उप चुनाव से किया था। अखिलेश यादव उसके बाद यहां से तीन बार सांसद रहे और जब 2012 में वो उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री बने तो उन्होंने ये सीट खाली कर दी। जिसके बाद हुए उप चुनाव में डिंपल यादव यहां से निर्विरोध चुनकर ससंद पहुंची थी। कन्नौज से डिंपल यादव एक बार से चुनावी मैदान में हैं।

Show more
content-cover-image
कन्नौज सीट पर होगी कांटे की टक्करमुख्य खबरें