content-cover-image

फंस गई तेज बहादुर की उम्मीदवारी

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

फंस गई तेज बहादुर की उम्मीदवारी

यूपी की वाराणसी लोकसभा सीट पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ खेला गया गठबंधन का दांव फेल हो सकता है. समाजवादी पार्टी ने गठबंधन प्रत्याशी के रूप में सीमा सुरक्षा बल से बर्खास्त फौजी तेज बहादुर यादव को चुनावी मैदान में उतारा है, लेकिन तेज बहादुर की उम्मीदवारी पर तलवार लटक गई है क्योंकि उन्होंने दो हलफनामों में अपनी बर्खास्तगी से जुड़ी दो अलग-अलग जानकारी दी हैं. उन्होंने पहले निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में 24 अप्रैल को वाराणसी से नामांकन भरा. इसके साथ दिए गए हलफनामे में उन्होंने बताया , भ्रष्टाचार के आरोप के चलते सेना से उन्हें बर्खास्त किया गया है. जबकि बाद में समाजवादी पार्टी से टिकट मिलने पर उन्होंने दोबारा नामांकन 29 अप्रैल को भरा| उस वक्त उन्होंने हलफनामे में इस जानकारी को छुपा ली. वाराणसी के रिटर्निंग ऑफिसर ने इसी तथ्य को आधार बनाते हुए तेज बहादुर यादव से सफाई मांगी है. तेज को आज सुबह 11 बजे तक अपना जवाब दाखिल करना है. अगर, निर्वाचन अधिकारी उनके जवाब से संतुष्ट नहीं होता है तो उनकी उम्मीदवारी रद्द की जा सकती है.

Show more
content-cover-image
फंस गई तेज बहादुर की उम्मीदवारीमुख्य खबरें