content-cover-image

23 मई को केंद्र के साथ गुजरात सरकार भी गिरेगी

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

23 मई को केंद्र के साथ गुजरात सरकार भी गिरेगी

कांग्रेस का साथ छोड़कर नेशनलिस्ट कांग्रेस पार्टी यानी एनसीपी का दामन थामे पूर्व मुख्यमंत्री शंकर सिंह वाघेला के एक सियासी बयान ने गुजरात की राजनीति में सियासी भूचाल ला दिया है. शंकर सिंह वाघेला ने दावा किया है कि 23 मई को जैसी ही राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन की सरकार गिरेगी, गुजरात में भी भारतीय जनता पार्टी की सरकार गिर जाएगी. उन्होंने यह भी दावा किया है कि बीजेपी के 40 विधायक उनके संपर्क में हैं. इस सरकार में उनकी बात कोई नहीं सुनता है. न ही उनके इलाके में कोई काम करने में मुख्यमंत्री विजय रूपाणी की कोई दिलचस्पी है.' वाघेला के इस दावे के बाद पार्टी का शीर्ष नेतृत्व सकते में हैं और यह जानने की कोशिश कर रहा है कि क्या सच में विधायकों से शीर्ष नेतृत्व नाराज है. हालांकि बीजेपी ने आधिकारिक तौर पर इस मामले में कुछ नहीं कहा है. लेकिन पार्टी के भीतर कौन-कौन लोग शंकर सिंह वाघेला के सम्पर्क में हैं, इसकी जांच होने लगी है. पिछले विधानसभा चुनावों में बीजेपी 100 का आंकड़ा भी नहीं पार कर पाई थी. गुजरात में वैसे तो सरकार बनाने के लिए 92 विधायकों की संख्या ही पर्याप्त है, लेकिन वाघेला के दावे से पार्टी का चौंकना लाजमी है. अगर शंकर सिंह वाघेला का दावा सच साबित होता है तो बीजेपी के लिए गुजरात में मुश्किलें बढ़ने वाली हैं.

Show more
content-cover-image
23 मई को केंद्र के साथ गुजरात सरकार भी गिरेगीमुख्य खबरें