content-cover-image

देश में पहली बार मिला नास्तिक होने का अधिकार, बना no religion card

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

देश में पहली बार मिला नास्तिक होने का अधिकार, बना no religion card

हरियाणा के टोहाना के रवि ने खुद के विचार को अपनाते हुए पहले कोर्ट के माध्यम से नास्तिक कहलवाने का अधिकार लिया. अब रवि नास्तिक ने इसमें दो कदम बढ़ा कर धर्म, जाति और भगवान को नकारते हुए खुद के नाम प्रमाण पत्र जारी करवाया है. जिसे जारी करवाने के लिए उसे गहरी मशक्त करनी पड़ी. स्थानीय प्रशासन ने जब इसे नहीं बनाया तो रवि ने उपायुक्त महोदय को इस बारे में गुहार लगाई फरियाद लगाई कि उनके मत के अनुसार उसे नो कास्ट, नो रिलिजन, नो गॉड प्रमाण पत्र जारी करवाया जाए. रवि ने बताया कि उन्होनें पहले कोर्ट से नास्तिक कहलाने का हक जताया था. इसके बाद उन्होनें स्थानीय प्रशासन से अनुरोध किया था कि उनका नो कास्ट, नो रिलिजन, नो गॉड का प्रमाण बनाया जाए और यह संभवत पहला प्रमाण पत्र है जिसे प्रशासन के माध्यम से हासिल किया गया है. इसका सिरीयल नंबर भी एक ही है. इस प्रमाण पत्र के बनने पर उन्होनें खुशी जाहिर की है. इसके साथ ही इस चुनावी माहौल में उन्होनें अपील भी की, कि जो राजनेता धर्म के नाम पर, जात के नाम पर लोगों को बांट रहे हैं वो ऐसा ना करें. सबसे पहले इन्सानियत है बाकि तो बाद में है. उन्होंने कहा, युवाओं की सोच को दबाओं मत क्योंकि आने वाला समय युवाओं का है. इन जैसे नेताओं का नहीं. ऐसा चलता रहा तो देश आने वाले समय में टुकड़े-टुकड़े हो जाएगा.

Show more
content-cover-image
देश में पहली बार मिला नास्तिक होने का अधिकार, बना no religion cardमुख्य खबरें