content-cover-image

बुरहान के गांव में नहीं पड़ा एक भी वोट

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

बुरहान के गांव में नहीं पड़ा एक भी वोट

लोकसभा चुनाव के लिए पांचवें चरण के मतदान में कश्मीर घाटी में वोटिंग प्रतिशत बेहद कम रहा। अनंतनाग लोकसभा सीट के शोपियां और पुलवामा जिलों में केवल 2.81% वोट पड़े। जम्मू-कश्मीर के इतिहास में यह सबसे कम रहा। करीब तीन साल पहले एनकाउंटर में मार गिराए गए हिज्बुल मुजाहिदीन के पोस्टर बॉय बुरहान वानी के गांव में किसी ने भी वोट नहीं डाला। वानी के शरीफाबाद गांव ने मतदान से दूर रहने का फैसला किया. वहीं, इसी साल फरवरी में पुलवामा में बड़े हमले को अंजाम देने वाले सूइसाइड बॉम्बर आदिल अहमद डार के गांव में सिर्फ 15 वोट डाले गए। इसके अलावा दक्षिण कश्मीर में दूसरे मिलिटेंट कमांडरों के गांवों में भी कोई वोट नहीं डाला गया। बता दें कि जुलाई, 2016 में बुरहान वानी को सुरक्षाबलों ने एनकाउंटर में मार गिराया था। हाल ही में शोपियां में एक एनकाउंटर में 3 उग्रवादियों को ढेर कर दिया गया था और कुछ युवाओं को गिरफ्तार कर लिया गया था। माना जा रहा है, इसी कारण वोटिंग में कमी आई है।

Show more
content-cover-image
बुरहान के गांव में नहीं पड़ा एक भी वोटमुख्य खबरें