content-cover-image

Chunav Spl: पुरानी दिल्ली का बादशाह कौन?

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

Chunav Spl: पुरानी दिल्ली का बादशाह कौन?

शहाजहांनाबाद इलाके का प्रतिनिधित्व करने वाली चांदनी चौक लोकसभा सीट से देश का मिजाज पता चलता है। राजधानी का चांदनी चौक पुरानी दिल्ली के नाम से भी जाना जाता है. अपने गठन से अभी तक सिर्फ दो बार ही इस सीट पर जीती हुई पार्टी केंद्र में अपनी सरकार नहीं बना सकी है। इस प्रतिष्ठित सीट पर इस बार भी घमासान होगा। चांदनी चौक दिल्ली की दूसरी सबसे पुरानी लोकसभा सीट है। साल 1957 में पहली बार यह अस्तित्व में आई। इससे पहले सिर्फ नई दिल्ली सीट पर 1951 में चुनाव हुआ था। बाद में हुए परिसीमन का असर चांदनी चौक और नई दिल्ली सीट पर नहीं पड़ा है। इस सीट पर अब तक 15 चुनाव हुए हैं। इनमे से नौ बार कांग्रेस ने जीत हासिल की है। वहीं, भाजपा, जनता पार्टी और जनसंघ ने यहां छह बार विजय पाई है। मिश्रित आबादी के चलते यहां के चुनावी समीकरण दिल्ली से अलग हैं। यहां मुस्लिम और वैश्य मतदाता बड़ी संख्या में हैं। अपनी सीट के साथ-साथ यह लोग देश के दूसरे हिस्सों पर भी असर डालते हैं। दिल्ली का अधिकांश कारोबार भी इस इलाके से होता है। इस वजह से बड़ी संख्या में कामगारों को भी यह सीट प्रभावित करती है। यह निर्वाचन क्षेत्र बहुत घनी आबादी वाला है. इसमें लाहोरी दरवाजा से लेकर चौक कोतवाली तक चांदनी चौक को कवर करते हुए फतेहपुरी मस्जिद तक का इलाका आता है.

Show more
content-cover-image
Chunav Spl: पुरानी दिल्ली का बादशाह कौन?मुख्य खबरें