content-cover-image

विपक्ष को एकजुट करने के लिए सक्रिय हुईं Sonia

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

विपक्ष को एकजुट करने के लिए सक्रिय हुईं Sonia

सातवें चरण के मतदान से पहले यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी ने विपक्षी दलों को एकजुट करने की कवायद तेज कर दी है। एनडीए के विरोधी सभी दलों से टोह लेने की कोशिश हो रही है कि क्या गैर भाजपा सरकार बनाने में सभी एकजुट होंगे? दक्षिण भारत में तीसरे मोर्चे के गठन के लिए तेलंगाना के मुख्यमंत्री केसी राव की कोशिशों के बाद कांग्रेस ने भी सक्रियता दिखाई है। यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी के इस अभियान में मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ को अहम जिम्मेदारी दी गई है। सोनिया ने विपक्ष दलों के प्रमुख नेताओं को फोन करके जानकारी ली है कि वे 22, 23 और 24 मई को दिल्ली में रहेंगे कि नहीं। माना जा रहा है कि कांग्रेस विपक्षी दलों की बैठक बुलाकर यह संदेश देने की कोशिश करेगी कि भले ही वह कई राजनीतिक पार्टियों के साथ प्री-पोल गठजोड़ का हिस्सा न हों, लेकिन सभी मोदी के खिलाफ लड़े और एकजुट हैं। सूत्रों की मानें तो सोनिया गांधी चाहती हैं कि कमलनाथ इस अभियान को लीड करें। वे सभी छोटे-बड़े दलों तक कांग्रेस की पहुंच बनाएं और उन्हें यूपीए में शामिल होने का न्यौता दें। एक ओर जहां भाजपा बहुमत के साथ सरकार में आने का दावा कर रही है, तो वहीं कांग्रेस ने भी भाजपा को रोकने के लिए कमर कस ली है और 23 मई के लिए तैयारियां तेज कर दी है।

Show more
content-cover-image
विपक्ष को एकजुट करने के लिए सक्रिय हुईं Sonia मुख्य खबरें