content-cover-image

Election Spl: आया जनादेश, कई दिग्गज बढ़ रहे हार की तरफ

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

Election Spl: आया जनादेश, कई दिग्गज बढ़ रहे हार की तरफ

चुनावी मैदान में उतरने वाले कई उम्मीदवार ऐसे होते हैं, जिनकी जीत को लेकर पूरा देश निश्चिंत रहता है। भाजपा हो या कांग्रेस, हर पार्टी में ऐसे कई स्टार कैंडिडेट होते हैं जिनके बारे में माना जाता है कि वो जिस सीट से खड़े हो रहे हैं, वहां से उनकी जीत तय है, लेकिन 2019 के लोकसभा चुनाव में ऐसे कई नेताओं की अपराजेय छवि धूमिल हुई है। ऐसे इ नेताओं में से हैं - ज्योतिरादित्य सिंधिया चुनावी इतिहास में यह पहली बार होगा जब मध्यप्रदेश की गुना लोकसभा सीट से सिंधिया परिवार के किसी सदस्य को हार का सामना करना पड़ सकता है। ज्योतिरादित्य सिंधिया गुना लोकसभा सीट पर पिछले चार लोकसभा चुनावों से लगातार जीत हासिल करते आए हैं। ग्वालियर के बाद गुना को सिंधिया परिवार का सबसे मजबूत गढ़ माना जाता है, लेकिन इस बार ज्योतिरादित्य सिंधिया को यहां से अप्रत्याशित हार का स्वाद चखना पड़ सकता है। उनके सामने भाजपा उम्मीदवार केपी सिंह यादव को खड़ा किया था, जिन्होंने सिंधिया को रुझान में काफी पीछे छोड़ दिया है। शत्रुघ्न सिन्हा बिहार के रुझान बताते हैं कि बिहारी बाबू के नाम से लोकप्रिय बॉलीवुड के पूर्व अभिनेता शत्रुघ्न सिन्हा को बिहार की पटना साहिब लोकसभा सीट से भाजपा के रविशंकर प्रसाद ने भारी मतों से पछाड़ दिया है। हालांकि इनके बीच कांटे की टक्कर थी, लेकिन सिन्हा को रेस में आगे माना जा रहा था। शत्रुघ्न सिन्हा ने इससे पहले भाजपा के टिकट पर ही इस सीट से चुनाव जीता था, लेकिन इस बार पार्टी से टिकट कट जाने के कारण उन्होंने कांग्रेस का हाथ थाम लिया था। दिग्विजय सिंह गुना लोकसभा सीट के बाद मध्यप्रदेश में दिग्गज नेता दिग्विजय सिंह की हार से कांग्रेस को दूसरा बड़ा झटका लगा है। रुझान में भाजपा के हिन्दुत्व की प्रतीक साध्वी प्रज्ञा ने बड़े अंतर के साथ मध्यप्रदेश कांग्रेस के बड़े चेहरे दिग्विजय सिंह को पछाड़ दिया है। अब साध्वी की जीत का रास्ता साफ नजर आने लगा है। गौरतलब है कि यहां दोनों प्रत्याशियों के बीच की लड़ाई को केवल सियासी नहीं, बल्कि धार्मिक युद्ध के तौर पर भी देखा जा रहा था। कन्हैया कुमार बिहार की बेगूसराय लोकसभा सीट से भाजपा के वरिष्ठ नेता गिरिराज सिंह सीपीआई उम्मीदवार कन्हैया कुमार को भारी मतों से हराते हुए दिख रहे हैं। रुझान के मुताबिक इन दोनों के बीच करीब एक लाख 66 हजार से भी ज्यादा वोटों का फासला हो सकता है। जीतन राम मांझी बिहार की गया लोकसभा सीट से जदयु प्रत्याशी विजय कुमार ने रुझानों में करीब 53 हजार वोटों से जीतन राम मांझी को पीछे छोड़ दिया है। बिहार की राजनीति के स्थापित चेहरा जीतन राम मांझी भी इस बार मात खाते दिख रहे हैं। गाजीपुर से केंद्रीय मंत्री मनोज सिन्हा भी पीछे हैं , तमाम एग्जिट पोल में उन्हें मुश्किल में बताया गया था। रामपुर में जयाप्रदा अपने प्रतिद्वंदी सपा के आजम खाने से पीछे हैं। यहां दोनों नेताओं के बीच जबरदस्त प्रचार युद्ध चला था। आजम को अशालीन बयान के लिए चुनाव आयोग ने बैन भी किया था। उत्तर प्रदेश के फतेहपुर सीकरी से राज बब्बर भी हार की तरफ बढ़ते दिख रहे हैं। कानपुर से कांग्रेस कानपुर उम्मीदवार श्रीप्रकाश जायसवाल हार की तरफ बढ़ रहे हैं। उनके सामने हैं भाजपा के सत्यदेव पचौरी। महाराष्ट्र के सोलापुर से पूर्व गृह मंत्री सुशील कुमार शिंदे भी हार की कगार पर हैं। हरियाणा के अंबाला से कांग्रेस उम्मीदवार कुमारी शैलजा , बंगाल के आसनसोल से टीएमसी उम्मीदवार मुनमुन सेन , मुंबई उत्तर से कांग्रेस उम्मीदवार उर्मिला मातोंडकर की हार तय दिख रही है। उनके सामने भाजपा उम्मीदवार गोपाल शेट्टी हैं। कांग्रेस के कद्दावर नेता मल्लिकार्जुन खड़गे भी इस बार भाजपा उम्मीदवार से पिछड़ते नजर आ रहे हैं।

Show more
content-cover-image
Election Spl: आया जनादेश, कई दिग्गज बढ़ रहे हार की तरफमुख्य खबरें