content-cover-image

Special: कौन कहता है आसमां में सुराख़ हो नहीं सकता....

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

Special: कौन कहता है आसमां में सुराख़ हो नहीं सकता....

गांधी परिवार का गढ़ अमेठी भी हाथ से निकल गया. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को स्मृति ईरानी ने लगभग 56 हजार वोटों से हरा दिया. स्मृति ईरानी की सालों की मेहनत आखिर अमेठी में रंग लाई. इस बार उन्होंने वो कर दिखाया जिसके बारे में सिर्फ सोचा ही जा सकता था. इसे जमीन पर उतारना आसान कतई नहीं था. ये इस चुनाव का सबसे बड़ा उलटफेर माना जा रहा है. लेकिन अमेठी के लोगों की मानें तो ये संकेत काफी समय से मिल रहे थे जो कि गांधी परिवार व उसके आसपास के लोग कभी समझ नहीं पाए. केन्द्रीय मंत्री स्मृति ईरानी इस सीट से दूसरी बार उम्मीदवार थीं. राहुल गांधी यहां से चौथी बार चुनाव मैदान में थे. 2014 के लोकसभा चुनाव में राहुल ने स्मृति को 1,07,000 वोटों के अंतर से हराया था. गांधी को 408,651 वोट मिले थे, जबकि ईरानी को 300,748 वोट मिले थे. इस बार स्मृति ने बाजी पलट दी.

Show more
content-cover-image
Special: कौन कहता है आसमां में सुराख़ हो नहीं सकता....मुख्य खबरें