content-cover-image

Special : वो नाम जिन्हें मोदी कैबिनेट में पहली बार मिल सकती है जगह

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

Special : वो नाम जिन्हें मोदी कैबिनेट में पहली बार मिल सकती है जगह

लोकसभा चुनाव में NDA को मिली बंपर जीत के बाद आज पीएम मोदी दूसरी बार प्रधानमंत्री पद की शपथ लेंगे और साथ ही आज कैबिनेट का गठन होगा. नए कैबिनेट में कई ऐसे नेता हैं जिनको पहली बार मोदी सरकार में मंत्री पद मिलना लगभग तय है. दरअसल बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के नरेंद्र मोदी से मुलाकात के बाद कई संभावित मंत्रियों को फोन आने शुरू हो गए हैं. इनके नाम का औपचारिक एलान होने के बाद यह पहला मौका होगा जब इनको मोदी सरकार में मंत्री पद मिलेगा. आइए जानते हैं किन-किन नेताओं को पहली बार मोदी मंत्रिमंडल में जगह मिल सकती है. प्रहलाद सिंह पटेल - दमोह लोकसभा से मोदी लहर में बीजेपी प्रत्याशी प्रहलाद पटेल ने 3 लाख से अधिक मतों से जीत हासिल की. तीसरे वाजपेयी मंत्रालय में वह कोयला राज्य मंत्री थे. वह पहली बार 1989 में 9वीं लोकसभा के लिए चुने गए. वह पेशे से वकील हैं. प्रल्हाद जोशी - प्रल्हाद जोशी भारत की 16 वीं लोकसभा में कर्नाटक के धारवाड़ निर्वाचन क्षेत्र से जीते थे. इस बार भी वह यहीं से चुनाव जीते हैं. गंगापुरम किशन रेड्डी - रेड्डी तेलंगाना में भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष हैं. 11 साल की उम्र में, वे अपने उच्च प्राथमिक विद्यालय के अध्यक्ष के रूप में चुने गए थे. वे हिमायत नगर निर्वाचन क्षेत्र से आंध्र प्रदेश विधानसभा के लिए चुने जा चुके हैं और 2009 और 2014 में उन्हें दुबारा अम्बरपेट निर्वाचन क्षेत्र से चुना गया RCP सिंह- राम चंद्र प्रसाद सिंह बिहार से राज्यसभा के सांसद हैं. वह जनता दल (यूनाइटेड) पार्टी से हैं. नालंदा जिले के मूल निवासी ; राजनीति में आने से पहले यूपी कैडर के आईएएस अधिकारी थे. वह नीतीश कुमार के प्रमुख सचिव भी रह चुके हैं . कैलाश चौधरी- बीजेपी के कैलाश चौधरी एक बाड़मेर निर्वाचन क्षेत्र से वर्तमान सांसद हैं. वे राजस्थान विधान सभा के पूर्व सदस्य हैं , और राजस्थान के बायतु विधानसभा क्षेत्र का प्रतिनिधित्व भी. रमेश पोखरियाल- 2009 से 2011 तक उत्तराखंड के मुख्यमंत्री रहे हैं. और 2014 की तरह इस बार भी लोकसभा चुनाव उत्तराखंड के हरिद्वार संसदीय क्षेत्र से जीते हैं. नित्यानंद राय यादव- 2014 के आम चुनाव में उजियारपुर से भारतीय जनता पार्टी के उम्मीदवार के रूप में चुने गए.वह बीजेपी बिहार के वर्तमान अध्यक्ष हैं. ओ पी रवींद्रनाथ कुमार - तमिलनाडु राज्य के नेता हैं. उनके पिता ओ पनीरसेल्वम तमिलनाडु के उपमुख्यमंत्री हैं. ये लोकसभा चुनाव 2019 में तमिलनाडु में AIADMK-NDA से जीतने वाले अकेले प्रत्याशी हैं. और इससे पहले जयललिता के कार्यकाल में 2011-16 तक आवास मंत्री रहे हैं . रावसाहेब दादराव दानवे- दानवे भारतीय जनता पार्टी के नेता हैं. वर्तमान में वह भारतीय जनता पार्टी के महाराष्ट्र अध्यक्ष हैं. उन्होंने 2019 के आम चुनावों में 5 वीं बार जालना लोकसभा सीट जीती है. सोम प्रकाश- पंजाब से बीजेपी नेता , ये पहले IAS अधिकारी रह चुके हैं . वह होशियारपुर लोकसभा क्षेत्र से इस बार चुनाव जीते हैं. रामेश्वर तेली- असम के एक भारतीय राजनेता और भारतीय जनता पार्टी के सदस्य हैं. वह 2014 के आम चुनावों में डिब्रूगढ़ से लोकसभा के लिए चुने गए थे. धोत्रे संजय शामराव- ये बीजेपी के नेता हैं और महाराष्ट्र के अकोला निर्वाचन क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करते हैं. इस बार महाराष्ट्र की अकोला लोकसभा सीट से भारतीय जनता पार्टी के धोत्रे संजय शामराव को शानदार जीत मिली है. सुब्रत पाठक - 21 साल बाद इत्रनगरी कन्नौज में भगवा परचम लहराने वाले सुब्रत पाठक को मोदी कैबिनेट में जगह मिलना तय माना जा रहा है. मिली जानकारी के मुताबिक शपथ ग्रहण समारोह से पहले पीएमओ की तरफ से उन्हें फोन कॉल आया है. लोकसभा चुनाव 2019 में उन्होंने सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव की पत्नी डिंपल यादव को भरी मतों से हराया है.

Show more
content-cover-image
Special : वो नाम जिन्हें मोदी कैबिनेट में पहली बार मिल सकती है जगह मुख्य खबरें