content-cover-image

शपथ लेते ही विवादों में घिरे HRD Minister

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

शपथ लेते ही विवादों में घिरे HRD Minister

मोदी सरकार में मानव संसाधन विकास मंत्रालय डिग्री विवाद को लेकर एक बार फिर चर्चा में है। इस बार मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक भी डिग्री को लेकर सवाल उठने लगे हैं। आरोप है कि निशंक अपने नाम के आगे डॉक्टर लिखते हैं, जो पूरी तरह से गलत है। जानकारी के अनुसार रमेश पोखरियाल निशंक को 90 के दशक में कोलंबो की ओपेन इंटरनेशनल यूनिवर्सिटी ने शिक्षा में विशेष योगदान के लिए डी लिट की उपाधि से सम्मानित किया था। जबकि कुछ समय बाद ही उनको उसी युनिवर्सिटी से एक ओर डी लिट डिग्री की उपाधि मिली। इस बार युनिवर्सिटी ने उनको विज्ञान में योगदान के लिए यह डिग्री दी थी। हाल ही चौंकाने वाला खुलासा हुआ है कि यह युनिवर्सिटी श्रीलंका में पंजीकृत ही नहीं है। यही नहीं श्रीलंका के विश्वविद्यालय अनुदान आयोग यूजीसी ने इस बात की पुष्टि भी की है। हैरान करने वाली बात यह है कि इस संबंध में जब देहरादून से दाखिल एक आरटीआई निशंक के बायोडाटा से जुड़ी पूरी जानकारी मांगी गई तो उनके सीवी और पासपोर्ट में अलग-अलग जन्मतिथि दर्ज मिली। दरअसल, मानव संसाधन विकास मंत्रालय से जुड़ा यह डिग्री विवाद पुराना है। इससे पहले पिछली सरकार में एचआरडी मंत्री रही स्मृति ईरानी की डिग्री को लेकर भी काफी विवाद हुआ था।

Show more
content-cover-image
शपथ लेते ही विवादों में घिरे HRD Ministerमुख्य खबरें