content-cover-image

देश में हो सकती है पानी की किल्लत...

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

देश में हो सकती है पानी की किल्लत...

केंद्रीय जल आयोग की रिपोर्ट के अनुसार 30 मई 2019 को देश के 91 जलाशयों में सिर्फ 20 फीसदी पानी ही बचा है. जबकि, 23 मई को यह 21 प्रतिशत था. पश्चिम और दक्षिण भारत के जलाशयों में पानी पिछले 10 वर्षों के औसत से भी नीचे चला गया है. जलाशयों में पानी की कमी की वजह से देश का करीब 42 फीसदी हिस्सा सूखाग्रस्त है. जो पिछले साल की तुलना में 6 फीसदी ज्यादा है. सूखे पर निगरानी रखने वाले ड्रॉट अर्ली वॉर्निंग सिस्टम ने 28 मई को बताया था कि सूखाग्रस्त इलाके का हिस्सा बढ़कर 42.61% हो गया है, जो 21 मई को 42.18 फीसदी था. आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, महाराष्ट्र, कर्नाटक, गुजरात और राजस्थान सूखे से बुरी तरह प्रभावित हैं. असामान्य रूप से सूखे वाली कैटेगरी में बीते साल के 0.68% के मुकाबले इस साल 5.66% की बढ़ोतरी हुई है. अब सबकी निगाहें मॉनसूनी बारिश पर हैं.

Show more
content-cover-image
देश में हो सकती है पानी की किल्लत...मुख्य खबरें