content-cover-image

भारत बना रहेगा सबसे तेज वृद्धि वाली प्रमुख अर्थव्यवस्था

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

भारत बना रहेगा सबसे तेज वृद्धि वाली प्रमुख अर्थव्यवस्था

बेहतर निवेश और निजी खपत के दम पर भारत आने वाले समय में भी सबसे तेजी से वृद्धि करने वाली प्रमुख वैश्विक अर्थव्यवस्था बना रहेगा. विश्वबैंक के अनुसार, अगले तीन साल तक भारत की आर्थिक वृद्धि दर 7.50 प्रतिशत रह सकती है. विश्वबैंक की यह रिपोर्ट ऐसे समय आयी है जब केंद्रीय सांख्यिकी कार्यालय के आंकड़े सामने आने के बाद नरेंद्र मोदी सरकार को आलोचनाओं का सामना करना पड़ रहा है. सीएसओ के आंकड़ों के अनुसार, वित्त वर्ष 2018-19 की चौथी तिमाही में देश की आर्थिक वृद्धि दर पांच साल के न्यूनतम स्तर 5.80 प्रतिशत पर आ गयी। यह चीन की तुलना में कम है। सीएसओ ने अपनी रिपोर्ट में कृषि एवं विनिर्माण क्षेत्र में वृद्धि की दर सुस्त पड़ने को आर्थिक गतिविधियों में गिरावट के लिये जिम्मेदार बताया था. विश्वबैंक ने मंगलवार को जारी अपने वैश्विक आर्थिक परिदृश्य में कहा कि वित्त वर्ष 2018-19 में भारत के 7.20 प्रतिशत की दर से वृद्धि करने का अनुमान है.

Show more
content-cover-image
भारत बना रहेगा सबसे तेज वृद्धि वाली प्रमुख अर्थव्यवस्थामुख्य खबरें