content-cover-image

Bihar : बच्चों की मौत पर बवाल, मंत्रियों के खिलाफ अदालत पहुंचा मामला

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

Bihar : बच्चों की मौत पर बवाल, मंत्रियों के खिलाफ अदालत पहुंचा मामला

बिहार में इन दिनों एक्यूट इंसेफेलाइटिस सिंड्रोम अपना कहर बरपा रहा है। इसे बीमारी को दिमागी बुखार और जापानी बुखार के नाम से भी जाना जाता है। अबतक 100 बच्चे इसकी चपेट में आकर दम तोड़ चुके हैं। टीवी रिपोर्ट के अनुसार मुजफ्फरपुर की सीजेएम अदालत में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन और बिहार के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय के खिलाफ मुकदमा दायर हुआ है। सामाजिक कार्यकर्ता तमन्ना हाशमी ने उनके खिलाफ शिकायत दी है जिसपर 24 जून को सुनवाई होगी। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने रविवार को मुजफ्फरपुर का दौरा किया था। इस दौरान केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री अश्विनी कुमार चौबे भी मौजूद थे। जिला स्वास्थ्य अधिकारी ने मंत्रियों को बताया कि हालात का जायजा लेने के लिए डॉक्टरों और स्वास्थ्य अधिकारियों ने एक समीक्षा बैठक की। आज बिहार के मंत्री श्याम रजक से जब पूछा गया कि क्या मुख्यमंत्री नीतीश कुमार मुजफ्फरपुर के श्री कृष्ण मेडिकल कॉलेज अस्पताल आएंगे जहां 80 से ज्यादा मरीजों की दिमागी बुखार के कारण मौत हो चुकी है तो उन्होंने कहा, 'मुख्यमंत्री हर चीज पर नजर रख रहे हैं। क्या जरूरी है? निगरानी करना या मरीजों का इलाज करना या उनसे यहां मिलने के लिए आना?' इसी बीच सोमवार को संसद भवन से बाहर निकले हर्षवर्धन से जब पत्रकारों ने बिहार में दिमागी बुखार के कारण बढ़ते मौत के आंकड़ों को लेकर सवाल किया तो उन्होंने मीडिया से बात करने से साफ़ इनकार कर दिया.

Show more
content-cover-image
Bihar : बच्चों की मौत पर बवाल, मंत्रियों के खिलाफ अदालत पहुंचा मामलामुख्य खबरें