content-cover-image

ITBP ने 500 घंटे चलाया अभियान

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

ITBP ने 500 घंटे चलाया अभियान

दुनिया में बहुत कम बचाव अभियान मुश्किल हालात और चुनौतियों में इस अभियान का मुकाबला कर सकते हैं. भारत-तिब्बत सीमा पुलिस यानि आईटीबीपी ने 500 घंटे तक चले अभियान में 18000 फीट की ऊंचाई पर 7 पर्वतारोहियों के शवों की तलाश की और उन्हें लेकर आए. इस अभियान में शामिल थे कुल 11 आईटीबीपी कर्मी, जो अनुभवी पर्वतारोही थे. 13 मई को उत्तराखंड के पिथौरागढ़ ज़िले से 12 पर्वतारोहियों ने नंदा देवी चोटी पर चढ़ना शुरू किया. 30 मई को पिथौरागढ़ प्रशासन को इनके गायब होने की सूचना मिली और आईटीबीपी ने उनकी तलाश शुरू की. 2 जून को 4 ब्रिटिश पर्वतारोहियों को नंदा देवी बेस कैंप में तलाश कर लिया गया और उन्हें हेलीकॉप्टर के ज़रिए सुरक्षित नीचे भेज दिया गया. बचे 8 पर्वतारोहियों की तलाश में लगे वायुसेना के हेलीकॉप्टर ने 3 जून को एरियल रेकी के दौरान कुछ शव देखे. लेकिन ख़राब मौसम और ऊंचाई की वजह से हेलीकॉप्टर के ज़रिए खोज अभियान नहीं चलाया जा सका. इसके बाद 14 जून को आईटीबीपी के पर्वतारोही दल ने चढ़ाई शुरू की. लापता पर्वतारोहियों में 4 ब्रिटिश, 2 अमेरिकी, 1 आस्ट्रेलियन और 1 भारतीय था. टीम को आगे बढ़ने के लिए बहुत मुश्किल चढ़ाई करनी पड़ी क्योंकि ढलान बहुत तीखे थे और हवा बहुत तेज़ चल रही थी.

Show more
content-cover-image
ITBP ने 500 घंटे चलाया अभियानमुख्य खबरें