content-cover-image

NASA चांद पर पहले महिला को, बाद में पुरुष को भेजेगा

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

NASA चांद पर पहले महिला को, बाद में पुरुष को भेजेगा

दुनिया इस साल मानव के चांद पर कदम रखने की 50वीं वर्षगांठ मना रही है. इसी के मद्देनजर अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा ने कहा कि वह एक अन्य कार्यक्रम के तहत इस दिशा में एक बार फिर बड़ी उपलब्धि हासिल करने को तैयार है. कार्यक्रम के तहत पहले महिला और उसके बाद पुरुष को चांद की सतह पर उतारा जाएगा. इस कार्यक्रम को 'आर्टेमिस' नाम दिया गया है, जो अपोलो की जुड़वा बहनें मानी जाती हैं. यह चंद्रमा और आखेट (शिकार) की देवी का नाम भी है. एजेंसी की मानें तो उसका स्पेस कार्यक्रम आर्टेमिस, उसके मंगल मिशन में बेहद अहम भूमिका निभाएगा. नासा ने एक बयान में कहा, "मंगल पर हमारा रास्ता आर्टेमिस बनाएगा. नया आर्टेमिस मिशन अपोलो कार्यक्रम से साहसिक प्रेरणा लेकर अपना रास्ता तय करेगा." अंतरिक्ष यात्री चंद्रमा के उन क्षेत्रों का पता लगाएंगे, जहां पहले कोई भी नहीं गया है. वे ब्रह्मांड के रहस्यों को खोलते हुए उस तकनीक का भी परीक्षण करेंगे जो सौरमंडल में मनुष्य की सीमाओं को विस्तार देगी. एजेंसी ने कहा, "चांद की सतह पर हम पानी, बर्फ और अन्य प्राकृतिक संसाधनों का पता लगाएंगे, जिससे भविष्य में अंतरिक्ष की और आगे तक की यात्रा संभव हो सके. चंद्रमा के बाद मनुष्य की अगली बड़ी उपलब्धि मंगल ग्रह होगी.

Show more
content-cover-image
NASA चांद पर पहले महिला को, बाद में पुरुष को भेजेगामुख्य खबरें