content-cover-image

सामने आई Punjab Govt. की लापरवाही, खिलाड़ी बने शिकार

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

सामने आई Punjab Govt. की लापरवाही, खिलाड़ी बने शिकार

पंजाब सरकार की गलती का खामियाजा सिर्फ हरभजन सिंह को नहीं हॉकी स्टार रुपिंदर पाल सिंह, गुरजीत कौर, वेटलिफ्टर विकास ठाकुर और बॉक्सर अमनदीप सिंह को भी भुगतना होगा। हरभजन के साथ गुरजीत का नाम राजीव गांधी खेल रत्न, रुपिंदर और विकास का अर्जुन और अमनदीप का नाम ध्यानचंद अवॉर्ड के लिए भेजा गया था। ये सभी आवेदन भी देरी के चलते खेल मंत्रालय ने स्वीकार नहीं किए हैं। अमनदीप के साथ दूसरी बार ऐसा हुआ है। कुछ वर्ष पूर्व उनका आवेदन अर्जुन अवॉर्ड के लिए देर से भेजा गया था। तब उनके सबसे ज्यादा अंक बनते थे, लेकिन उनका आवेदन खारिज कर दिया गया। साथ ही दुती चंद का आवेदन भी उड़ीसा सरकार की ओर से देर मिलने पर खारिज कर दिया गया है। ओडिशा सरकार ने भी उनका नाम देर से भेजा। हरभजन की शिकायत के बाद पंजाब सरकार ने देरी से आवेदन भेजे जाने के मामले में जांच बिठाई है।

Show more

content-cover-image
सामने आई Punjab Govt. की लापरवाही, खिलाड़ी बने शिकारमुख्य खबरें