content-cover-image

Delhi Regional News 2nd August

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

Delhi Regional News 2nd August

बुलंदशहर के स्याना नगर क्षेत्र के एक मोहल्ले में बुधवार तड़के तीन सशस्त्र बदमाश एक घर में घुस गए। वहां आरोपियों ने गृहस्वामी को तमंचे के बल पर बंधक बना लिया। आरोप था कि लूटपाट के बाद दो बदमाशों ने उसकी पत्नी के साथ सामूहिक दुष्कर्म की वारदात को अंजाम दिया। गृहस्वामी ने अपनी पुत्री समेत तीन अज्ञात आरोपियों के खिलाफ तहरीर देकर रिपोर्ट दर्ज कराई थी। लेकिन इस मामले की जांच के बाद पुलिस को जो बात पता चली वह इतनी हैरान करने वाली है कि एक बार को पुलिस भी सन्न रह गई।दरअसल पुलिस की जांच में स्याना गैंगरेप की घटना फर्जी निकली है। पुलिस की जांच में सामने आया है कि माता-पिता ने अपनी बेटी को फंसाने के लिए ये साजिश रची थी। गौरतलब है कि लड़की ने गैर बिरादरी के युवक के साथ भागकर शादी की थी जिसे लेकर उसके माता-पिता नाराज थे। पुलिस ने फर्जी मुकदमा दर्ज कराने पर आरोपी पिता मनोज और मां को गिरफ्तार किया है। दिल्ली विधानसभा चुनाव से पहले केजरीवाल सरकार ने दिल्लीवालियों को बड़ा तोहफा दिया है। दिल्ली में बिजली पर फिक्स चार्ज घटा दिए गए है। जिससे दिल्ली में बिजली सस्ती हो गई है। 15 किलोवाट तक बिजली का उपयोग करने वाले उपभोक्ताओं के लिए फिक्स्ड चार्ज में प्रति किलोवाट 75 रुपए से लेकर 105 रुपए तक की कटौती की गई है। बता दें कि ये नई दरें 1 अगस्त से लागू हो जाएंगी। डॉक्टरों की हड़ताल की वजह से पूर्वी दिल्ली में एक गर्भवती महिला का घर में प्रसव कराना पड़ा। प्रसव के बाद नवजात की मौत हो गई। प्रसव के बाद रात में अस्पताल पहुंचे परिजनों ने जब पूरी घटना बताई तो डॉक्टरों ने मां को आनन फानन में भर्ती कर लिया। पूर्वी दिल्ली के कड़कड़डूमा निवासी धर्मेंद्र ने बताया कि वह मजदूरी करता है। वह गर्भवती पत्नी को लेकर डॉ हेडगेवार अस्पताल बुधवार रात गया था। यहां डॉक्टरों ने इलाज किए बगैर महिला को शुक्रवार को प्रसव के लिए आने को कहा। धर्मेंद्र ने बताया कि अस्पताल से आने के बाद उनकी पत्नी सावित्री प्रसव पीड़ा से तड़प रही थी। बृहस्पतिवार सुबह दर्द काफी बढ़ गया था। अस्पताल जाकर पता किया तो डॉक्टर हड़ताल पर थे। नेशनल मेडिकल कमिशन बिल के खिलाफ डॉक्टरों का विरोध प्रदर्शन जारी है. दिल्ली में एम्स के डॉक्टर तीसरे दिन भी हड़ताल पर हैं. डॉक्टरों के विरोध के बीच गुरुवार को नरेंद्र मोदी सरकार ने राज्यसभा में एनएमसी बिल को पास करा दिया, जबकि 29 जुलाई को लोकसभा में यह बिल पास हो गया था. पूरे देश के डॉक्टर इस बिल के विरोध में प्रदर्शन कर रहे हैं.डॉक्टरों के हड़ताल के चलते स्वास्थ्य सेवाएं पूरी तरह से बंद पड़ी हैं. इसका खामियाजा मरीजों को उठाना पड़ रहा है. हड़ताल की वजह से मरीजों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. गंगा नगर से आई सुमन अपने बेटे के पैरालाइज का इलाज कराने आई थीं, लेकिन 4 दिन से परेशान हैं, इलाज नहीं हो रहा है. अपनी बीवी का इलाज कराने के लिए रतिराम शर्मा पीलीभीत से आए हैं. उनकी पत्नी को ब्रेन कैंसर है. परेशान हैं, लेकिन इलाज नहीं मिल पा रहा है

Show more
content-cover-image
Delhi Regional News 2nd Augustमुख्य खबरें